BMW केस में मुख्य आरोपी मिहिर शाह को मिली 7 दिन की हिरासत, पुलिस के पास सवालों की लंबी लिस्ट

मुंबई
मुंबई बीएमडब्ल्यू हिट-एंड-रन मामले के मुख्य आरोपी मिहिर शाह को 16 जुलाई तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। मिहिर शाह 72 घंटे बाद पुलिस की गिरफ्त में आया है। पिछले तीन दिनों से वह पुलिस को छका रहा था। इस दौरान पुलिस की 12 टीमें उसे खोज रही थीं। मिहिर के एक दोस्त के मोबाइल ऑन करने के बाद पुलिस को उनकी लोकेशन का पता लगा और गिरफ्तारी मुमकिन हो पाई। मुंबई पुलिस को हिट एंड रन केस में अदालत द्वारा आरोपी मिहिर शाह की सात की कस्टडी मिल गई है। इन सात दिनों में पुलिस के पास चुनौती होगी कि वे मिहिर से कड़ी पूछताछ करेंगे और उसके खिलाफ केस मजबूत करने की कोशिश करेंगे। पहले ही तीन दिन बाद गिरफ्तारी से मिहिर के उस रात शराब पीने का पता चलने की कोई संभावना नहीं है।

सवालों की लंबी लिस्ट
पुलिस सूत्रों का कहना है कि मिहिर से शनिवार रात बार में एंट्री से रविवार सुबह एक्सीडेंट के बीच की पूरी घटना जानने की होगी। पुलिस के सामने यह भी चुनौती है कि मिहिर जिस बार में गया था, उसके मालिक ने दावा किया था मिहिर ने सिर्फ रेड बुल पी थी। इसके अलावा मिहिर मर्सिडीज में आया था। जबकि एक्सीडेंट बीएमडब्ल्यू से हुआ है। गिरफ्तारी से बचने के लिए मिहिर ने नंबर प्लेट कहीं फेंक दी है। पुलिस को उस नंबर प्लेट की भी तलाश है। इससे पहले एकनाथ शिंदे वाली शिवसेना ने उसके पिता राजेश शाह को पार्टी से निलंबित कर दिया है। राजेश शाह के बेटे मिहिर शाह को कल शाम पुलिस ने गिरफ्तार किया था। उस पर तीन दिन पहले कावेरी नाम की महिला को अपनी कार से उड़ाने का आरोप है। यह भी जानकारी सामने आई है कि घटना के वक्त मिहिर नशे में था और अपने दोस्तों संग रातभर बार में पार्टी करने के बाद वह गाड़ी चला रहा था। गाड़ी चलाते वक्त उनका ड्राइवर बगल की सीट पर बैठा था। कार से स्कूटी को टक्कर मारने के बाद जब हड़बड़ाहट में मिहिर कार लेकर भागने लगा तो महिला कार के बोनट में ही फंस गई और करीब डेढ़ किलोमीटर तक कार के साथ घसीटती चली गई। इस दर्दनाक घटना में महिला की तो मौत हो गई लेकिन, उसका पति गंभीर रूप से घायल हो गया था। उसका इलाज चला और वह फिलहाल घर पर अपने बच्चों के साथ है।

बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल, पति बोला- मैं भी ऐसे ही घसीटूंगा
उधर, कावेरी की मौत के बाद घर पर उनके बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल है। कावेरी के पति प्रदीप का कहना है कि उसके बच्चे दिन-रात अपनी मां के लिए पूछते रहते हैं। वह उन्हें कैसे समझाए कि वो अब कभी नहीं आएगी। प्रदीप का कहना है कि अगर मिहिर जैसे लोगों को सजा भी हो जाए तो क्या इससे मेरी पत्नी वापस आ जाएगी? वह गुस्से में आगे कहते हैं कि मैं भी उसे ऐसे ही घसीटूंगा जैसे मेरी बीवी की मौत हुई। वह मिहिर की कड़ी से कड़ी सजा की मांग कर रहे हैं। उन्होंने पुलिस पर मिहिर को पकड़ने में ढिलाई बरतने और शिंदे सरकार पर आरोपियों को शह देने का आरोप लगाया है।

 

Source : Agency

15 + 7 =

Chetan Singh Bhati (Editor in Chief)

Email: [email protected]
Mobile: (+91) 7000067016
Chhatisgarh Bureau Office: Dangania, Raipur (CG) 492013